Norethiserone गर्भाशय के अस्तर को बदलने का काम करता है। कम खुराक वाला गर्भनिरोधक, गर्भ के स्तर को बदल देता है और इस तरह गर्भ के स्तर पर शरीर में एसेंट की रोकथाम करता है। यह दवाई पीरियड के दौरान दर्द और रक्त स्त्राव को कम करता है या फिर पीरियड में देरी करता है। Norethisterone डॉक्टर के द्वारा मिलने वाली दवा है इस दवाई को अन्य दिक्कतों में भी इस्तेमाल किया जाता है। इस दवाई का प्रयोग डॉक्टर के सलाह अनुसार ही किया जाता है।

Norethisterone acetate controlled release tablets का प्रमुख उपयोग निम्नलिखित है:-

1. हम तौर पर इस दवा का उपयोग प्रेगनेंसी को रोकने के लिए किया जाता है जिसे मिनी-पिल भी कहा जाता है क्योंकि इसमें किसी तरह का एस्ट्रोजन नहीं पाया जाता है।

2. इस दवाई से गर्भाशय में सूजन की मात्रा कम की जाती है जो हार्मोन रिप्लेसमेंट थेरेपी के रूप में काम करता है। इससे महिलाओं में महावारी की प्रक्रिया चालू रहती है।

3. एस्ट्रोजन का उपयोग बर्थ कंट्रोल के लिए किया जाता है। इसका इस्तेमाल डॉक्टर द्वारा बताए गए निर्देशों के अनुसार ही करना चाहिए।

4. Norethisterone दवा की खुराक को मासिक धर्म के पहले दिन लेने से लाभ होता है।

5. यह दवाई ओव्यूलेशन को रोकती है गर्भाशय में सूजन की मात्रा को बदलने के रूप में काम करती है।

6. यह दवाई डॉक्टर के पर्चे द्वारा मिलने वाली दवा है। इसका इस्तेमाल मुख्य रूप से ब्लीडिंग के लिए एवं पीरियड में दर्द के लिए किया जाता है।

7. Norethisterone का सेवन करने से हमारे शरीर पर बहुत कम ही प्रभाव डालता है और इसे इस्तेमाल करने से किडनी पर कोई दुष्प्रभाव नहीं होता है। यह हृदय के लिए पूरी तरह से अनुकूल होता है और सुरक्षित माना जाता है।

9. Norethisterone एक प्रोजेस्टिन है। यह दवा ओव्यूलेशन को रूकती है और गर्भाशय में एस्ट्रोजन की मात्रा को बदलकर हार्मोन रिप्लेसमेंट थेरेपी के रूप में काम करता है जिससे स्पर्म अंडे तक पहुंच पाते हैं और महिलाओं की महामारी की प्रक्रिया बनी रहती है।

10. इस मिनी-पिल को बर्थ कंट्रोल करने के कुछ अन्य तरीकों जैसे कंडोम, साईकल कैप या डायाफ्राम से अधिक प्रभावी माना जाता है। हालांकि एस्ट्रोजन की तुलना बर्थ कंट्रोल के लिए कम प्रभावी होता है क्योंकि यह लगातार ओव्यूलेशन को नहीं रोक सकती हैं। इसका प्रयोग उन महिलाओं को करना अति आवश्यक होता है जो एस्ट्रोजन नहीं ले सकती है और अगर प्रेगनेंसी को रोकने के लिए इस्तेमाल करना है तो इसका प्रयोग करना उचित माना जाता है।

11. यदि आप रात को सोते समय खाना खाने के बाद इसकी खुराक आप ले सकते हैं और यदि आपको इसकी खुराक से उल्टी या मतली आती है तो इससे राहत मिल सकती हैं। इसकी खुराक आप दिन के किसी भी समय ले सकते हैं लेकिन निश्चित करें कि अगली खुराक 24 घंटे के बाद ही ले। इसकी खुराक लेने का सबसे सही समय मासिक धर्म का पहला दिन होता है।

12. इस दवा एक बार से अधिक सेवन करने की सलाह नहीं दी जाती है क्योंकि उससे अबॉर्शन होने का खतरा बढ़ जाता है। स्तनपान कराने वाली महिला बिना चिकित्सक से सलाह से इस दवा का प्रयोग नहीं करना चाहिए।

Read More: Rebeprazole Sodium and Domperidone Capsules Uses in Hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here