MedicinesPregabalin Notriptyline and Methylcobalamin Tablets Uses In Hindi

Pregabalin Notriptyline and Methylcobalamin Tablets Uses In Hindi

Pregabalin Nortriptyline Tablets

Pregabalin शरीर में उपस्थित क्षतिग्रस्त तंत्रिकाओं द्वारा भेजे जाने वाले दर्द के संकेत को घटाकर अपना काम करता है। यह शरीर में उठने वाले दौरे को नियंत्रित करता है साथ ही साथ तंत्रिका तंत्र ओं की गतिविधियों को भी कम कर देता है और मस्तिष्क को भी शांत कर देता है। Pregabalin antipyleptic दवाइयों के साथ संबंध रखता है। यह तंत्रिकाओं के बीच दर्द के संकेतों के स्थानांतरण को प्रतिबंधित करने के लिए मस्तिष्क में तंत्रिकाओं द्वारा उत्सर्जित किए जाने वाले कुछ विशेष पदार्थों को संशोधित करने का काम करता है जिससे तंत्रिकाओं की क्षति के कारण होने वाले दर्द को पूरी तरह से शांत कर दिया जाता हैं।

प्रेगाबालीन नॉट्रिपटाइलीन दवाइयों के उपयोग (Pregabalin Notriptyline Tablets Uses In Hindi)

इस टैबलेट के प्रमुख उपयोग को निम्नलिखित रुप से देखा जा सकता है –

  1. Pregabalin का इस्तेमाल साधारणतया न्यूरोपैथिक दर्दों अर्थात् नसों कि क्षती के कारण होने वाले दर्द को दूर करने के लिए इस दवाई का उपयोग होता है।
  2. प्रत्येक दवाई के इस्तेमाल में कुछ ना कुछ दुष्प्रभाव देखने को मिलते हैं जैसे कि प्रेगाबलीन दवाइयों के अत्यधिक इस्तेमाल से आपको शरीर में बेचैनी, चक्कर आना, शरीर के अंगों में दर्द होना, खिंचाव महसूस होना, धुंधलापन, खुद को तकलीफ देने के विचार मन में उत्पन्न न हो सकते हैं इत्यादि।
  3. Pregabalin का इस्तेमाल अपस्मार या मिर्गी जैसी बीमारियों के इलाज में इस दवाई का उपयोग होता है जिसमें मरीज को बार बार दौरे पड़ते हैं और यह एक न्यूरोलॉजिकल डिसऑर्डर है इसे seizures भी कहते है।

Read More: Amoxicillin and Potassium Clavulanate Tablets IP 625 mg Uses in Hindi

Methylcobalamin Tablets

मिथाइलकोबालामिन, क्षतिग्रस्त तंत्रिका तंत्र कोशिकाओं के स्वास्थ्य कि लाभ की प्रक्रिया में एक महत्वपूर्ण भूमिका अदा करता है और यह मिथाइलकोबालामिन दवा तंत्रिका तंत्र कोशिकाओं को उचित प्रकार से क्रियाशील बनाए रखता है और साथ ही निरंतरता भी बनाए रखता है।

मिथाइलकोबालामिन दवाइयों के उपयोग (Methylcobalamin Tablets Uses In Hindi)

  1. मिथाइलकोबालामिन दवाइयों के भिन्न उपयोग है। ये दवाई के उपयोग से आपके शरीर में मौजूद तंत्रिका तंत्र की गतिविधि और उसमें क्रियाशीलता बनी रहती है।
  2. यह दवाई आपके मानसिक स्थिति को भी बरकरार रखता है क्योंकि अगर तंत्रिका तंत्र उचित प्रकार से काम नहीं करेगा तो आप तक कोई भी संदेश नहीं पहुंच पाएगी जिसके अनुसार आप किसी भी घटना के लिए कोई भी प्रतिक्रिया नहीं कर पाएंगे।
  3. ज्यादातर Methylcobalamin दवाओं का इस्तेमाल शरीर में मौजूद विटामिन B12 की कमी से बचने के लिए किया जाता है। विटामिन B12 कि कमी से शरीर में एनीमिया रोग, हड्डियों के रोग, पीठ दर्द और कमर दर्द जैसी बीमारीयां भी हो सकती है।
  4. अगर आपका शरीर इस मिथाइलकोबालामिन दवाई के विरुद्ध प्रतिकूल प्रभाव दिखा रहा है तो तुरंत आप अपने चिकित्सक से सलाह मशवरा करें, क्योंकि समय रहते अपने शरीर में घट रही घटना का पता चल जाना बड़ी बीमारी को जन्म देने से रोक सकता है।
  5. Methylcobalamin दवाई को सुरक्षित माना जाता है लेकिन कभी कभी दुष्प्रभाव देखने को मिलते है जैसे :-  डायरिया, एनोरेक्सिया और रैशेज जैसे दुर्लभ बीमारियां भी हो सकता है। अगर इन दवाइयों के उपयोग से रैश तथा खुजली जैसी बीमारियां होती है तो इस दवा के प्रयोग को तुरंत बंद कर देना चाहिए।

Read More: L Arginine and Proanthocyanidin Granules Uses in Pregnancy In Hindi

Subscribe Today

GET EXCLUSIVE FULL ACCESS TO PREMIUM CONTENT

SUPPORT NONPROFIT JOURNALISM

EXPERT ANALYSIS OF AND EMERGING TRENDS IN CHILD WELFARE AND JUVENILE JUSTICE

TOPICAL VIDEO WEBINARS

Get unlimited access to our EXCLUSIVE Content and our archive of subscriber stories.

Exclusive content

Latest article

More article

Aldoctor