Progesterone का प्रयोग महिला बांझपन (गर्भवती बनने के असमर्थता) और हार्मोन रिप्लेसमेंट थेरेपी में होता है। इसका इस्तेमाल सेकेंडरी एमनॉरिया अर्थात महावारी ना आना से पीड़ित महिलाओं में माहवारी को लाने और नियमित रखने में इस दवा का प्रयोग किया जाता है। यादवा गर्भावस्था के दौरान महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाला एक हार्मोन होता है यह हार्मोन बच्चे के घर गर्भ में रहने के दौरान महत्वपूर्ण होता है क्योंकि या उसके और गर्भवती महिला के स्वास्थ्य के लिए आवश्यक होता है।

Read More: Diclomine Hydrochloride and Paracetamol Tablets

Progesterone sustained release tablets 300mg प्रोजेस्टेरोन के उपयोग करने के तरीके निम्नलिखित हैं:-

1. गर्भावस्था के दौरान यह हार्मोन प्लेसेंटा और गर्भाशय के बीच उनके प्रभाव को बढ़ाकर दूध के उत्पादन के लिए स्तन ग्रंथियो के विकास को उत्तेजित करता है।

2. गर्भाशय की सफलता सुनिश्चित करने के लिए गर्भाशय की दीवार को मोटा करता है।

3. यह इंप्लांटेशन को सफल करने के लिए गर्भाशय के अंदरूनी दीवार ,युटेरस लाइनिंग को तैयार करता है।

4. यह हार्मोन गर्भाशय के अंदरूनी दीवार में धमनी रक्त और ग्लाइकोजन के प्रभाव को बढ़ाता है ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि बच्चे को पर्याप्त पोषण मिलता रहे।

5.यह गर्भाशय के संकुचन को रोकने में मदद करता है।

6. गर्भावस्था के पहले दो हफ्तों में ओवरेज लगभग 1 से 1.5 मिली प्रोजेस्ट्रोन जारी करता है।

7. Progesterone एक महिला सेक्स हार्मोन होता है जो हर महीने ओवरीज में उत्पन्न होता है।

8. प्रोजेस्टोरन हार्मोन हमारे मासिक धर्म चक्र को भी नियंत्रित करता है । यह bacteria को गर्भाशय में प्रवेश करने से रोकता है।

9. यह प्राकृतिक प्रोजेस्टेरोन को बदलकर जो कुछ महिलाओं में नहीं होता है, महावारी को लाने का काम करता है।

10. यह गर्भावस्था में दिखाई देने वाले गर्भाशय और योनि में परिवर्तन करता है। इसका यूटरोट्रोफिक प्रभाव भी लंबे समय तक रहता है।

11. महिलाओं में मासिक धर्म संबंधी विकार को ठीक करता है और गर्भनिरोधक के रूप में भी इस्तेमाल किया जाता है।

12. प्रोजेस्टेरोन एक फीमेल हार्मोन होता है, जिसका निर्माण महिला के अंडाशय ovaries में होता है।

13. गर्भाशय को गर्भधारण करने के योग्य बनाने में सहयोग प्रदान करता है।

14. दुग्ध निर्माण में मदद करता है और महिला की प्रतिरक्षा प्रणाली को नियंत्रित करता है।

15. गर्भपात के जोखिम को कम करने में सहयोग प्रदान करता है।

16. इस दवा की मदद से पीरियड सर्कल को नियंत्रित किया जा सकता है।

17. इसका इस्तेमाल जनन क्षमता के इलाज के रूप में भी किया जा सकता है और मेनोपॉज के बाद और हार्मोन रिप्लेसमेंट थेरेपी के रूप में भी दिया जा सकता है।

18. यह गर्भावस्था का समर्थन करने और समय से पहले श्रम को रोकने एवं रक्त स्त्राव के विकारों का इलाज करने में मदद करता है। यह मेनोपॉज से पहले हो सकता है।

19. Progesterone महिलाओं में पाया जाने वाला एक ऐसा हार्मोन है जो ओव्यूलेशन और मासिक धर्म के नियंत्रण के लिए महत्वपूर्ण होता है।

20. मेनोपॉज के बाद ऐसी महिलाएं जो एस्ट्रोजन हार्मोन रिप्लेसमेंट थेरेपी ले रही है , उनमें गर्भाशय की लाइनिंग को ज्यादा बढ़ने से रोकने में प्रोजेस्टेरोन का उपयोग किया जाता है। कभी-कभी प्रोजेस्ट्रोन को कम समय के लिए जैसे प्रत्येक मासिक धर्म के दौरान 6 से 12 दिनों के लिए दिया जाता है। इस दवा का नियमित रूप से खुराक लेने पर काफी लाभ और प्रभावी होता है। इसकी खुराक लगातार लेते रहना चाहिए।

Read More: Pantoprazole Gastro Resistant and Domperidone Prolonged Release Capsules IP Uses in Hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here