Trypsin bromelain rutoside trihydrate tablets दो एंजाइम्स (ब्रोमेलेन – ट्रिप्सिन) और एक एंटीऑक्सीडेंट (रूटोसाइड) के मिश्रण से बनती है। एंजाइम्स प्रभावित क्षेत्र में ब्लड सप्लाई को बढ़ाने में मदद करता है ,जिससे शरीर उस पदार्थ का निर्माण करता है ताकि दर्द और सूजन से लड़ने में मदद मिल सके। एंटीऑक्सीडेंट्स शरीर को केमिकल (फ्री रेडिकल) से होने वाले नुकसान से बचाता है और सूजन को कम करता है। इस दवाई का प्रयोग दर्द को दूर करने के लिए किया जाता है। यह दवाई उस दर्द और सूजन को कम करती है जो ट्रॉमा, सर्जरी और रोजाना की दिनचर्या के कारण होती है।

Read More: Omeprazole Capsules ip 20 mg Uses in Hindi

Trypsin bromelain rutoside trihydrate tablets का उपयोग (Trypsin bromelain rutoside trihydrate tablets uses in Hindi)

Trypsin bromelain rutoside trihydrate tablets का उपयोग प्रमुख रूप से निम्नलिखित हैं:-

  1. Trypsin ka upyog सिरदर्द, दर्द, बुखार ,गठिया में होने वाले दर्द, दांत दर्द, घुटने में दर्द आदि में किया जाता है यह एक दर्द निवारक दवा है।
  2. ब्रोमेलेन एक एंजाइम होता है जो अनानास रस से निकाला जाता है और इसे दवा के रूप में प्रयोग किया जाता है। एंजाइम प्रोटीन पचाने वाला होता है।
  3. इसका प्रयोग मांसपेशियों के संकुचन, मांसपेशियों की छूट, थकावट धीमा करने और पलमोनरी एडिमा के लिए भी किया जाता है।
  4. इस दवा का इस्तेमाल हाथों और पैरों में सूजन के इलाज के लिए भी किया जाता है।
  5. Trypsin bromelain rutoside trihydrate का इस्तेमाल औषधीय नामक घांव संबंधी मूल की सूजन, शोफ और अन्य स्तिथियों के उपचार के लिए भी किया जाता है।
  6. इस दवा का उपयोग गठिया संबंधित दर्द को दूर करने में भी किया जाता है। मांस पेशियों एवं ऐंठन में भी लाभदायक होता है।
  7. Trypsin bromelain tablets एक दर्द निवारक दवा है। इसका उपयोग विभिन्न स्थितियों जैसे बुखार, सिर दर्द, गठिया से संबंधित दर्द ,महावारी में होने वाले दर्द और दांत दर्द के इलाज में किया जाता है।
  8. Bromelain एक एंजाइम है जो अनानास रस से निकाला जाता है और इसे दवा के रूप में प्रयोग किया जाता है । इसका उपयोग साइनस, सर्दी खांसी 8 सूजन में दवा के रूप में उपयोग किया जाता है।
  9. इसका प्रयोग मांसपेशियों के संकुचन, मांसपेशियों की छूट, थकावट धीमा करने और पलमोनरी एडिमा के लिए भी किया जा सकता है।
  10. trypsin bromelain rutoside trihydrate का प्रयोग घाव संबंधी मूल की सूजन, कब्ज की शिकायत आदि में भी इसका उपयोग किया जाता है।
  11. इस दवा का उपयोग मानसिक आघात, सर्जरी और रोजमर्रा की गतिविधियों के कारण होने वाले दर्द इन्फ्लेमेशन और सूजन से राहत के लिए किया जाता है।
  12. रूप सिंह को एक एंजाइम के रूप में जाना जाता है एक एंजाइम को प्रोटीन के रूप में परिभाषित किया जा सकता है जो शरीर में कुछ जैव रासायनिक प्रतिक्रियाओं में मदद करता है। यह एंजाइम छोटी आंत में पाया जाता है। ट्रिप्सिन उन व्यक्तियों को निर्धारित किया जाता है जिन्हें पाचन में समस्याएं होती है।
  13. इस दवा को सीधे कटे हुए स्थान में और घाव पर लागू किया जाता है जिससे मृत tissue को हटाया जा सके और तेजी से चिकित्सा शुरू की जा सके ताकि उसका regrowth हो सके।
  14. गर्भावस्था के दौरान एवं स्तनपान कराने के समय इस दवा को लेने से पूर्व डॉक्टर की सलाह लेना अति आवश्यक होती है बगैर डॉक्टर की सलाह के इस दवा का प्रयोग गर्भवती महिलाओं एवं स्तनपान कराने वाली महिलाओं को नहीं करना चाहिए।
  15. घाव को भरने के लिए यह स्प्रे के रूप में भी उपलब्ध होता है इसे तब तक लगाया जाना चाहिए जब तक कि कट या चोट पूरी तरह से ठीक हो ना हो जाए। इससे दर्द में काफी राहत मिलती है और यह दवा व्यक्ति के दर्द में राहत पहुंचाने का काम करता है।
  16. यह दवाई एक दर्द निवारक दवाई है इसके इस्तेमाल से हमारे शरीर में लगी चोट एवं कटे हुए निशान को भरने में मदद करता है।
  17. इसका इस्तेमाल सिर दर्द और महामारी में होने वाले दर्द में राहत पहुंचाने के लिए भी किया जाता है।
  18. Trypsin ka prayog दांत दर्द और बुखार में भी किया जाता है। इसका प्रयोग हमें तभी करना चाहिए जब हम डॉक्टर की सलाह ले ले बिना डॉक्टर की सलाह के हमे इस दवा का प्रयोग नहीं करना चाहिए।

Read More: Rabeprazole Sodium and Domperidone Capsules Uses in Hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here