डायड्रोबून टैबलेट महिला बांझपन को ठीक करता है, मासिक धर्म की कई समस्याओं जैसे भारी असामान्य पीरियड की ब्लीडिंग, पीरियड के दौरान तेज दर्द, अनियमित पीरियड, प्रीमेंस्ट्रुअल सिंड्रोम (पीएमएस) और एंडोमेट्रिओसिस से राहत देता है. It also restores normal menstrual cycles in case periods have stopped before reaching menopause.

Dydroboon Tablet 10 mg के उपयोग (Dydroboon Tablet 10 mg uses in pregnancy in Hindi):

डायड्रोबून टैबलेट का उपयोग महिला के बांझपन को ठीक करने के लिए किया जाता है, इस टैबलेट का उपयोग बांझपन के अलावा महिलाओं के कई बीमारियों से छुटकारा पाने के लिए किया जाता है, इस टैबलेट के मुख्य उपयोग निम्नलिखित है:

1. डायड्रोबून को डायड्रोजेस्ट्रोन के नाम से भी जाना जाता है।

2. प्रेगनेंसी में डायड्रोबून टैबलेट के कई नुकसान भी हैं, लेकिन होने वाले नुकसान के मुकाबले इससे होने वाले अधिक फायदे को ध्यान में रखते हुए ही इसे इस्तेमाल में लाया जाता है। यही वजह है कि इस दवा को डॉक्टर गर्भवती की शारीरिक स्थिति और होने वाले संभावित लाभ को देखते हुए ही लेने की सलाह देते हैं। बिना डॉक्टर की सलाह के इस दवा को नहीं लेना चाहिए।

3. गर्भावस्था में प्रोजेस्ट्रोन हार्मोन की कमी प्रेगनेंसी से जुड़ी जटिलताओं का कारण बन सकती है। एनसीबीआई (National Center for Biotechnology Information) की वेबसाइट पर प्रकाशित एक  शोध में साफ तौर से जिक्र मिलता है कि प्रेगनेंसी में प्रोजेस्ट्रोन हार्मोन की कमी गर्भपात का कारण बन सकती है। इसलिए, प्रेगनेंसी में डायड्रोबून टैबलेट लेने की सलाह डॉक्टर भी देते हैं।

4. आर्टिकल में पहले ही बताया जा चुका है कि डायड्रोबून टैबलेट को मुख्य रूप से गर्भावस्था में प्रोजेस्ट्रोन हार्मोन की कमी को दूर करने के लिए किया जाता है ताकि इस हार्मोन की कमी के कारण होने वाली प्राकृतिक गर्भपात की समस्या को दूर करने में मदद मिल सके। इसके अलावा, यह गर्भावस्था में निम्न समस्याओं में भी लाभकारी हो सकती है, जो कुछ इस प्रकार हैं:

    • गर्भाशय की भीतरी परत (लाइनिंग) के हटने की सामान्य प्रक्रिया को नियंत्रित करना।

     • प्रीमेंस्ट्रुअल सिंड्रोम के लक्षणों (जैसे :- भावनात्मक, शारीरिक और मानसिक बदलाव) को कम करे।

     • एंडोमेट्रिओसिस (गर्भाशय की भीतरी लाइनिंग का बाहर की ओर विकसित होना) से बचाव।

5. Dydroboon डॉक्टर द्वारा लिखी जाने वाली दवा है, जो टैबलेट के रूप में उपलब्ध है। यह दवाई खासतौर से एंडोमेट्रिओसिस, महिला बांझपन, पीरियड्स में दर्द के उपचार के लिए इस्तेमाल की जाती है। Dydroboon का उपयोग कुछ अन्य स्थितियों के लिए भी किया जाता है।

6. आच्छि प्रेग्नेंन्सी और अंडे के आरोपन के लिए इष्टतम प्रोजेस्टेरोन के स्तर का होना जरुरी होता है। इसलिए, प्रोजेस्टेरोन की कमी से गर्भपात और बांझपन होने से बचने के लिए नैसर्गिक प्रोजेस्टेरोन को दिया जाता है जो प्रोजेस्टेरोन की गतिविधि की नकल करते हैं। प्रोजेस्टेरॉन अनेक रूप में आते है उसमें सबसे अच्छा डायोड्रोजेस्टेरोन एक मौखिक रूप से दिया जाने वाला प्रोजेस्टेरोन है, यह सबसे  ज्यादा मात्रा में शरीर में चला जाता है इसिलिए dydroboon tablet बांझपन में सबसे कारगर दवा है।

7. अंडाशय में प्रोजेस्टेरॉन की मात्रा का उच्च स्थर सफल गर्भावस्था (Successfull Pregnancy) के लिए बेहद जरुरी होती है, यदी महिला के शरीर में प्रोजेस्टेरॉन की मात्रा कम होती है तो उसे गर्भपात हो सकता है इसिलिए dydroboon tablet जो की प्रोजेस्टेरॉन का सबसे अच्छा स्रोत है बार बार होणे वाले गर्भपात को रोकता है और सफल गर्भावस्था प्रदान करता है।

Read More: Ofloxacin and Metronidazole Suspension Uses for Baby in Hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here